लापता छात्र प्रकरण में लंका थाना की लग गई लंका

0
135
Spread the love | Share it


वाराणसी-लंका थाना आने के बाद लापता हुए छात्र की खोजबीन में घोर लापरवाही बरतने पर एसएसपी अमित पाठक ने कड़ी कार्रवाई की। लंका थाने के दो दारोगा समेत कुल पांच पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया गया। वहीं, दूसरी ओर भेलूपुर थाना प्रभारी समेत तीन पुलिसकर्मियों को भी काम में लापरवाही बरतने और मनमाना करने पर कार्रवाई हुई। थाना प्रभारी समेत तीन को पुलिस लाइन अटैच किया गया।

ये कार्रवाई एसएसपी के हाईकोर्ट में प्रस्तुत होने के ठीक एक दिन पहले की गई। हालांकि इस मामले में एसएसपी ने लंका थाना पुलिस से गायब छात्र प्रकरण में नोटिस जारी कर जवाब मांगा था। जवाब से संतुष्ट नहीं होने पर कार्रवाई की गई।

दूसरी तरफ लापता छात्र प्रकरण में हाईकोर्ट ने भी वाराणसी पुलिस से जवाब सवाल के लिए एसएसपी को तीन सितंबर को हाजिर होने को कहा है। कार्रवाई से पुलिस महकमें में हड़कंप मचा है।
लंका थाने से जिन लोगों को पुलिस लाइन अटैच किया गया है उसमें दारोगा प्रद्युम्नमणि त्रिपाठी व कुंवर सिंह ,सिपाही विजय कुमार यादव, ओम प्रकाश सिंह और शैलेंद्र कुमार सिंह हैं वहीं चोरी के एक मामले में मुकदमा दर्ज नहीं करने पर इंस्पेक्टर भेलूपुर उदय प्रताप सिंह, बजरडीहा चौकी इंचार्ज अजय यादव और मुंशी जयप्रकाश प्रसाद को लाइन हाजिर किया गया है।

क्या है पूरा मामला
12 फरवरी की रात डायल 112 ने शिवकुमार द्विवेदी को कथित रूप से शराब के नशे में होने की बात कहकर थाने लाई थी। इसके बाद से ही शिवकुमार गायब है। पुलिस का तर्क ये है कि उसे बाद में छोड़ दिया गया। लेकिन सवाल ये है उसके बाद से छात्र गायब हो गया।

इस बात की जानकारी उसके दोस्तों ने उसके पिता को दी। इसके बाद पिता वाराणसी पहुंचे और लंका थाने पर बेटे की खोजबीन की गुहार लगाए लेकिन आरोप है कि लंका पुलिस ने उनकी एक न सुनी। बेटे की तलाश में वह छह महीने तक शहर में भटकते रहें। सड़क,घाट किनारे सोए, हालांकि बाद में शिवकुमार के लिए बीएचयू के छात्रों ने अभियान चलाया। सोशल साइट से लगातय अन्य माध्यमों का सहारा लिया और लंका पुलिस की कारगुजारियों से जनमानस को अवगत कराया। इस मामले को लेकर हाईकोर्ट याचिका दायर की गई। जब हाईकोर्ट की फटकार लगी तब जाकर वाराणसी पुलिस हरकत में आयी। एसएसपी ने लंका थाना पुलिस से इस मामले में जवाब सवाल किये। इस प्रकरण को लेकर हाईकोर्ट ने एसएसपी को तलब किया उन्हें तीन सितंबर को होईकोर्ट में प्रस्तुत होने का आदेश दिया ताकि स्थिति स्पष्ट कर सकें।

19 अगस्त को डीएम समेत अन्य अफसरों को भेजा था नोटिस
कोर्ट ने 19 अगस्त को डीएम, एसएसपी वाराणसी व लंका थाना इंचार्ज को नोटिस जारी कर थाने से लापता छात्र की पूरी जानकारी मांगी थी।

क्षेत्राधिकारी भेलूपुर ने हलफनामा दाखिल किया और कहा कि, पुलिस ने आवश्यक कदम उठाए हैं। कोर्ट ने कहा कि, 12 फरवरी को लंका थाने में बुलाने के बाद क्या हुआ, इसकी कोई जानकारी नही दी गयी है।


Spread the love | Share it

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here